बंद करे

श्री महालक्ष्मी एवं अन्य मंदिर ऊन

श्रेणी धार्मिक

यह स्थान खरगौन से 18 कि.मी. दूरी पर है। परमार-कालीन शिव-मंदिर तथा जैन मंदिरों के लिये यह स्थान प्रसिद्ध है। एक बहुत प्राचीन महालक्ष्मी-नारायण मंदिर भी यहां स्थित है। खजुराहो के अतिरिक्त केवल यहीं परमार-कालीन प्रचीन मंदिर हैं।

फोटो गैलरी

  • श्री महालक्ष्मी जी मंदिर, ऊन
  • शिव मंदिर चौबारा, ऊन
  • प्राचीन मंदिर, ऊन

कैसे पहुंचें:

वायु मार्ग द्वारा

सबसे पास का विमानपत्तन देवी अहिल्या बाई होल्कर विमानपत्तन इंदौर है। यह विमानपत्तन खरगौन से 150 कि.मी. दूरी पर स्थित है।

ट्रेन द्वारा

खरगौन के निकटस्थ रेल्वे स्टेशन खंडवा जंक्शन है। यह खरगौन से 87 कि.मी. कि दूरी पर स्थित है। साथ ही इंदौर जंक्शन खरगौन से 150 कि.मी. कि दूरी पर स्थित है। मीटर गेज़ रेल्वे स्टेशन मे निकटस्थ रेल्वे स्टेशन सनावद है जो खरगौन से 70 कि.मी. कि दूरी पर स्थित है।

सड़क मार्ग द्वारा

यह शहर इंदौर से 150 कि.मी., बड़वानी से 90 कि.मी. (यदि आप गुजरात से आ रहे हैं – राज्य महामार्ग 26), सेंधवा से 70 कि.मी. (यदि आप महाराष्ट्र से आ रहे हैं – आगरा मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग क्रं. 3), धामनोद से 65 कि.मी. (यदि आप इंदौर से आ रहे हैं – आगरा मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग क्रं. 3), धार से 130 कि.मी., खण्डवा से 90 कि.मी., बुरहानपुर से 130 कि.मी. तथा भुसावल से 150 कि.मी. दूरी पर है। ऊन खरगौन से 18 कि.मी. की दूरी पर खरगौन-जुलवानिया-बड़वानी राजमार्ग पर स्थित है।