बंद करे

परम्परागत कृषि विकास योजना (PKVY)

दिनांक : 01/04/2015 - | सेक्टर: अधिकतम 1 हेक्टेयर तक किसान को सभी जैविक इनपुट (रसायन मुक्त) उपलब्ध कराना। कीटनाशक मुक्त कृषि उपज को बढ़ावा देना।

योजना प्रारम्भ हाने की दिनांक

01/04/2015

योजना का विवरण

अधिकतम 1 हेक्टेयर तक किसान को सभी जैविक इनपुट (रसायन मुक्त) उपलब्ध कराना। कीटनाशक मुक्त कृषि उपज को बढ़ावा देना।

हितग्राही (जैसे गरीबी रेखा के नीचे जीवन व्यापन करने वाले अथवा वरिष्ठ नागरिक अथवा शिक्षार्थी आदि)

समस्त वर्ग के उन्नतशील कृषकों जिनके प्रक्षेत्र/खेतों (समूह) के पास हो जिससे कृषक जैविक उत्पाद एवं सरलता से कर ।

हितग्राही को हाने वाले लाभ                 

कृषि आदान प्रदान करना जैसे बीज, जैविक उर्वरक, जैविक कीटनाशक और तकनीकी मार्गदर्शन।

योजना का लाभ कैसे लें (आवेदन की बिन्दुवार सम्पूर्ण प्रक्रिया)

आवेदक कृषक बी 1 खसरा/ऋण पुस्तिका, आधारकार्ड छायाप्रति, बैंक पासबुक छायाप्रति एवं मोबाईल नम्बर लेकर अपने विकासखण्ड के सहायक तकनीकि प्रबंधक से सम्पर्क कर प्राप्त लक्ष्यानुसार योजना का लाभ ले सकते हैं।

लाभार्थी:

समस्त वर्ग के उन्नतशील कृषकों जिनके प्रक्षेत्र/खेतों (समूह) के पास हो जिससे कृषक जैविक उत्पाद एवं सरलता से कर ।

लाभ:

कृषि आदान प्रदान करना जैसे बीज, जैविक उर्वरक, जैविक कीटनाशक और तकनीकी मार्गदर्शन।

आवेदन कैसे करें

आवेदक कृषक बी 1 खसरा/ऋण पुस्तिका, आधारकार्ड छायाप्रति, बैंक पासबुक छायाप्रति एवं मोबाईल नम्बर लेकर अपने विकासखण्ड के सहायक तकनीकि प्रबंधक से सम्पर्क कर प्राप्त लक्ष्यानुसार योजना का लाभ ले सकते हैं।